तोड़ के सूरज का टुकड़ा, ओप में ले आऊं मैं! हो जलन हांथों में, तो क्या! कुछ अँधेरा कम तो हो. -मीत

कोशिश



रचियता: हरिवंश राय बच्चन

लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती,

कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

नन्हीं चींटी जब दाना लेकर चलती है,

चढ़ती दीवारों पर, सौ बार फिसलती है।

मन का विश्वास रगों में साहस भरता है,

चढ़कर गिरना, गिरकर चढ़ना न अखरता है।

आख़िर उसकी मेहनत बेकार नहीं होती,

कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

डुबकियां सिंधु में गोताखोर लगाता है,

जा जा कर खाली हाथ लौटकर आता है।

मिलते नहीं सहज ही मोती गहरे पानी में,

बढ़ता दुगना उत्साह इसी हैरानी में।

मुट्ठी उसकी खाली हर बार नहीं होती,

कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

असफलता एक चुनौती है, इसे स्वीकार करो,

क्या कमी रह गई, देखो और सुधार करो।

जब तक न सफल हो, नींद चैन को त्यागो तुम,

संघर्श का मैदान छोड़ कर मत भागो तुम।

कुछ किये बिना ही जय जय कार नहीं होती,

कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती...

इस कविता को अपने ब्लॉग पर डालने के पीछे मेरा उद्देश्य यही है की मायूस लोगो में विश्वास जागे।

तुम्हारा मीत

आप हरिवंश जी की अन्य कवितायेँ इस लिंक पर पढ़ सकते हैं...

http://hindi.webdunia.com/miscellaneous/literature/harivansh/

8 Responses
  1. kya khoob hai bahi
    man se hare har hai
    man se jite jeet
    man rahe balwan
    isliye postive hi soch


  2. Harivansh ray bachhachn ji ki kavita bahut achhe se share ki hai
    aapse guzarish hai writer ki right ki respect kare unka naam zarur de


  3. दोस्त बहुत सुन्दर प्यारा लिखते हो आपकी जून वाली सारी पोस्ट पढी । ब्लोगवानी और चिट्ठाजगत के सदस्य बन अपने लेखन को बाकी लोगो से बाँटो। ये word verification हटा दो । कमेंट देने मे आशानी होगी लोगो को। शुभकामनाये।


  4. आपकी कलम में दम है. नियमित लिखते रहिये.. शुभकामनायें

    एक और बात, टिप्पणी से वर्ड वेरिफिकेशन हटा लें


  5. हिन्दी चिट्ठाजगत में आपका स्वागत है. नियमित लेखन के लिए मेरी हार्दिक शुभकामनाऐं.

    वर्ड वेरिपिकेशन हटा लें तो टिप्पणी करने में सुविधा होगी. बस एक निवेदन है.


  6. हिन्दी चिट्ठा जगत में आपका हार्दिक स्वागत है, आप हिन्दी में बढ़िया लिखें और खूब लिखें यही उम्मीद है।

    एक अनुरोध है कृपया यह वर्ड वेरिफिकेशन हटा दें,तो बढ़िया होगा यह टिप्पणी करते समय बड़ा परेशान करता है।

    ॥दस्तक॥
    तकनीकी दस्तक
    गीतों की महफिल


  7. jayaka Says:

    Ek sunder rachana se parichay karaya hai aapane!...dhanyawad!


  8. achha laga padhkar. vaise mein Harivansh Rai ki kavitaen bahut pasand karti hoon.


Related Posts with Thumbnails